Bihar Budget 2021-22: वित्त मंत्री तारकिशोर प्रसाद ने पेश किया 2,18,303 करोड़ का बजट

2/22/2021 4:15:54 PM

पटनाः बिहार के उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद ने आज पहली बार वित्त मंत्री के तौर पर 2 लाख 18 हजार 303 करोड़ का बजट पेश किया। इस दौरान उन्होंने नजर को बदलो तो नजारे बदल जाते है.. जोश भरे अंदाज में अपने भाषण की शुरुआत की। उन्होंने कहा कि कोविड ने अर्थव्यवस्था को तनाव में डाल दिया। कोविड में आम जीवन का महत्व अधिक हो गया। राज्य सरकार ने केंद्र के साथ मिलकर काम किया है।
 

BUDGET HIGHLIGHTS:

  • स्वास्थ्य के लिए 300 करोड़
  • 2 लाख 18 हजार 502 करोड़ अनुमानित आय
  • महिलाओं की उद्यामिता के लिए 200 करोड़
  • योजना मद में 1051881 करोड़ स्वीकृत
  • गैर योजना मद में 1177830 करोड़ स्वीकृत

PunjabKesari
तारकिशोर प्रसाद ने कहा कि लॉकडाउन के कारण आम आदमी घरों में कैद हो गए। कोविड को पराजित करने की पूरी कशिश की गई। इसके लिए लोगों को निशुल्क भोजन की सुविधा दी गई। प्रखंड और पंचायत स्तर पर कोविड सेंटर बने। कोरोना काल में बिहार सरकार ने अच्छा काम किया। उन्होंने कहा कि गरीबों को डीबीटी के जरिए 1 हजार रुपए भेजे गए। इतना ही नहीं रेल श्रमिक गाड़ी से बाहर फंसे लोगों को लाया गया। 

वित्त मंत्री के भाषण से जुड़ी कुछ अहम बातेंः-

  • 4671 करोड़ सात निश्चय पार्ट-2 के लिए स्वीकृत
  • सभी 38 जिले ओडीएफ घोषित किए गए हैं
  • हर प्रमंडल में टूल रूम का निर्माण होगा
  • हर जिले में मेगा स्किल सेंटर बनाए जाएंगे
  • 10वीं-12वीं पास को दीर्घकालीन ट्रेनिंग देंगे
  • उच्चस्तरीय सेंटर फॉर एक्सीलेंस बनाया जाएगा 
  • राजगीर में खेल विश्वविद्यालय की स्थापना होगी
  • 20 लाख नए रोजगार सृजित करेंगे
  • रोजगार में महिलाओं को 30% आरक्षण
  • इंटर पास लड़कियों कोे 25 हजार देंगे
  • स्नातक उतीर्ण लड़कियों को 50 हजार देंगे
  • महिलाओं के लिए विशेष योजना लाएंगे
  • स्ट्रीट लाइट के लिए 150 करोड़ का बजट प्रावधान
  • कृषि पर 550 करोड़ का बजट प्रावधान
  • महिलाओं को ब्याज मुक्त ऋण दिया जाएगा
  • सभी शहरों में विद्युत शवदाह केंद्र बनाए जाएंगे


PunjabKesari
उप मुख्यमंत्री सह वित्त मंत्री तारकिशोर प्रसाद ने सोमवार को विधानसभा में वित्त वर्ष 2021-22 का बजट पेश करने के बाद आयोजित संवाददाता सम्मेलन में बताया कि अगले वित्त वर्ष 2021-22 का कुल व्यय बजट अनुमान 218302.70 करोड़ रुपए है, जो वित्त वर्ष 2020-21 के 211761.49 करोड़ रुपए से 6541.21करोड़ रुपये अधिक है। उन्होंने बताया कि बजट में सबसे अधिक 38035.93 करोड़ रुपए शिक्षा विभाग के लिए प्रस्तावित है। इसमें से 36971.29 करोड़ रुपए राजस्व मद में और 1064.64 करोड़ रुपये पूंजीगत मद के लिए प्रस्ताव किया गया है।
PunjabKesari

तारकिशोर प्रसाद ने बताया कि 218302.70 करोड़ रुपए के बजट में वार्षिक स्कीम का कुल बजट अनुमान एक लाख करोड़ रुपए है। इसमें सुशासन के कार्यक्रम, आत्मनिर्भर बिहार के 7 निश्चय-2 (2020-25) के तहत वित्त वर्ष 2020-21 में विभिन्न विभागों में कुल 4671 करोड़ रुपए का बजट प्रावधान किया गया है। उन्होंने बताया कि स्थापना एवं प्रतिबद्ध व्यय मद में 117783.84 करोड़ रुपए का व्यय अनुमानित है।
PunjabKesari
वित्त मंत्री ने बताया कि वित्त वर्ष 2021-22 में राज्य का विकासात्मक व्यय 152267.24 करोड़ रुपए रहने का अनुमान है, जो कुल 218302.70 करोड़ रुपए का 69.75 प्रतिशत होगा। इसी तरह गैर विकासात्मक व्यय 66035.46 करोड़ रुपए रह सकता है। उन्होंने बताया कि आलोच्य वित्त वर्ष में राज्य को कुल 218502.70 करोड़ रुपए प्राप्ति होने का अनुमान है, जिसमें राजस्व प्राप्ति 186267.29 करोड़ रुपए और पूंजीगत प्राप्ति 32235.41 करोड़ रुपए शामिल हैं।


Content Writer

Nitika

Related News