मिड डे मील बनाने के दौरान गर्म चावल के माड़ में गिरी 2 मासूम बच्चियां, हालत गंभीर

11/26/2022 1:38:11 PM

पलामू: झारखंड के पलामू जिले में एक दर्दनाक हादसा हो गया है जहां स्कूल में 2 बहने टब में रखे गए गर्म पानी में गिर गई, जिसमें वह दोनों बुरी तरह से झुलस गई। दोनों का इलाज मेदिनी राय मेडिकल कॉलेज एंड अस्पताल, मेदिनीनगर में चल रहा है। वहीं, घटना के आधार पर पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

गर्म माड़ के टब में गिरी 2 बहनें
मामला जिले के तरहसी प्रखंड के सेलारी पंचायत के उत्क्रमित मध्य विद्यालय छेचानी का है। यहां बीते शुक्रवार को 11.30 बजे स्कूल में दोपहर का खाना बन रहा था। रसोईया सावित्री देवी और कालो देवी खाना पका रही थीं। चावल को पसा कर गर्म माड़ एक टब में रखा गया था। वहीं, पास में ही विद्यालय और आंगनबाड़ी केंद्र के बच्चे खेल रहे थे। इस दौरान 6 वर्षीय शिबू कुमारी और 3 वर्षीय ब्यूटी कुमारी गर्म माड़ के टब में गिर गईं। इसके बाद दोनों बहनें बुरी तरह से झुलस गई। आनन-फानन में दोनों मासूम को अस्पताल पहुंचाया जहां उनकी हालत गंभीर बताई जा रही है।

शिक्षकों का काम है बच्चों पर ध्यान देना
इस मामले में दोनों बच्चियों के पिता परमेश्वर साहू ने विद्यालय प्रबंधन को हादसे का जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने कहा है कि विद्यालय के शिक्षकों का काम बच्चों पर ध्यान देना है। अगर ध्यान देते तो ऐसी घटना नहीं घटती। वहीं, इस हादसे के बाद विद्यालय और आंगनबाड़ी केंद्र से जुड़े सभी जिम्मेवार एक-दूसरे को दोषी ठहरा रहे हैं।

सभी जिम्मेवार ठहरा रहे एक-दूसरे को दोषी 
सेविका अनीता देवी ने कहा कि हमारे आंगनबाड़ी के बच्चे जलकर जख्मी हुए हैं। इसके लिए उत्क्रमित मध्य विद्यालय की प्रधानाध्यापिका सह सचिव रीमा देवी जिम्मेवार हैं। रसोईया चावल पसा कर रास्ते पे रख देती हैं। यह बात प्रधानाध्यापिका को मालूम था, लेकिन उन्होंने व्यवस्थित करने के लिए कोई प्रयास नहीं किया।वहीं, विद्यालय प्रबंधन समिति के अध्यक्ष वीरेंद्र साव ने कहा कि यह घटना सचिव रीमा देवी की लापरवाही से घटी है। उधर, विद्यालय प्रधानाध्यापिका रीमा देवी का कहना है कि हमारी गलती से घटना नहीं हुई है। इसमें रसोइया की गलती है जो माड़ को रास्ते पर रखी थी।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

Khushi

Related News

Recommended News

static