तेजप्रताप पर रामराज यादव द्वारा लगाए गए आरोपों का RJD नेता ने किया खंडन, फेसबुक पर कही ये बात

4/27/2022 12:48:33 PM

 

पटनाः बिहार में राजद के युवा नेता डॉ. बिमलेश यादव ने सोशल मीडिया पर पोस्ट कर तेज प्रताप यादव पर रामराज यादव के द्वारा लगाए गए आरोपों का खंडन किया है। उन्होंने फेसबुक पर तेजप्रताप के साथ तस्वीर शेयर करते हुए अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। डॉ. बिमलेश यादव ने लिखा कि....

आदरणीय तेज प्रताप यादव जी के ऊपर रामराज यादव के द्वारा लगाए गए आरोपों का खंडन बिंदुवार-
1. रामराज यादव ने मीडिया में आकर कहा की 22/4/22 को आदरणीय श्री तेज प्रताप यादव जी ने उनको 10 सर्कुलर रोड स्थित राजमाता श्रीमती राबड़ी देवी जी के आवास पर एक कमरे में बंद कर के उनकी बेरहमी से पिटाई किए। अगर तेज प्रताप यादव जी ने उनको 22/4/22 को पिटा तो वो 25/4/22 तक क्या कर रहे थे??

2. उन्होंने 25/4/22 का दिन इसलिए चुना क्योंकि वो जानते थे की 25/4/22 को नेता प्रतिपक्ष आदरणीय श्री तेजस्वी प्रसाद यादव जी ने पार्टी कार्यालय में उच्च स्तरीय बैठक रखा है। सारे मीडिया के लोग उस बैठक को कभर करने वहाँ जुटेंगे, इससे उन्हें माईलेज मिलेगा।

3. रामराज यादव ने आदरणीय तेज प्रताप यादव जी पर आरोप लगाया की उन्होंने ग़रीबों के मसीहा परम आदरणीय श्री लालू प्रसाद यादव जी को भी गाली दिए। पुरा देश जानता है की तेज प्रताप यादव जी अपने पिता परम आदरणीय श्री लालू प्रसाद यादव जी को अपना भगवान मानते हैं। उन्होंने अपने पिता का चरण धोकर उसका रसपान किया है। आदरणीय श्री तेज प्रताप यादव जी ने आदरणीय श्री लालू प्रसाद यादव जी को माननीय न्यायालय से राहत मिले इसके लिए उन्होंने पूरे बिहार और झारखंड में न्याय यात्रा निकालने का काम किया।

4. रामराज यादव ने आदरणीय श्री तेज प्रताप यादव जी पर आरोप लगाया की उन्होंने नेता प्रतिपक्ष आदरणीय श्री तेजस्वी प्रसाद यादव जी को गाली दिया है। जिस भाई को मुख्यमंत्री बनाने के लिए आदरणीय श्री तेज प्रताप यादव जी ने कहा है की मेरे अर्जुन के राह में बाधक बनने वाले दैत्यों को पहले मुझसे टकराना होगा। मैं उन दैत्यों पर सुदर्शन चक्र से प्रहार करूँगा। आदरणीय तेज प्रताप यादव और आदरणीय श्री तेजस्वी यादव जी दोनो भाइयों का आपस में प्रेम देखकर पुरा देश दांतों तले अंगुली दबाता है उनपर ऐसा गंदा आरोप लगाना हास्यास्पद है।

5. रामराज यादव का जब तथाकथित पिटाई हो रहा था तो उन्होंने उसी समय वहाँ पर मौजूद बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राजमाता श्रीमती राबड़ी देवी जी और नेता प्रतिपक्ष आदरणीय श्री तेजस्वी यादव जी को इसकी जानकारी क्यों नहीं दी। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष आदरणीय श्री जगदानंद सिंह जी भी वहाँ मौजूद थे तथा पार्टी के अन्य शीर्ष नेतृत्व भी वहाँ मौजूद थे उन्होंने किसी को भी इस घटना की जानकारी क्यों नहीं दी। क्या तेज प्रताप यादव जी AK 47 लेकर उनको चहेट रहे थे की उनको अपना गाड़ी छोड़कर दूसरे के गाड़ी से भागना पड़ा।

6. रामराज यादव जी ने आदरणीय श्री तेज प्रताप यादव जी पर आरोप लगाया की नंगा कर के उनका वीडीओ बनाया गया। पुरा देश जानता है की आदरणीय श्री तेज प्रताप यादव जी भगवान श्री कृष्ण और देवाधिदेव महादेव के अनन्य भक्त हैं और वो किसी कार्यकर्ता को नंगा कर के वीडीओ बनाएं है ये बिल्कुल कोरी बकवास है।

7. रामराज यादव ने आदरणीय श्री तेज प्रताप यादव जी पर आरोप लगाया की उन्होंने मुझे इसलिए पिटा की वो चाहते हैं की मैं तेजस्वी यादव जी की पार्टी राजद में काम नहीं करूँ। जिस पार्टी को आदरणीय तेज प्रताप यादव जी ने अपने खून पसीने से सींचा है, पार्टी के लिए सड़क से लेकर सदन तक आंदोलन किए हैं, लाठी खाएँ है जेल गए हैं, उस पार्टी से लगातार दो बार से विधायक हैं, पूर्व मंत्री रहे हैं, बचपन से पार्टी का झंडा उन्होंने ढोया है। उस पार्टी में काम करने के लिए वो रामराज जी को मना किए और कमरे में बंद कर के उनकी पिटाई की। मतलब कुछ भी … बिहार की जनता बेवक़ूफ़ है और एक आप हीं चालाक हैं।

8. रामराज यादव ने तेज प्रताप यादव जी पर आरोप लगाया की 18 मिनट में उन्होंने इनको 500 गालियाँ दीं। भाई रामराज जी 18 मिनट में आप या आपका कोई साथी शिर्फ 100 गालियाँ हीं हमें बिना रिपिट किए हुए सुना दीजिए तो हम आपकी बातों को मान लेंगे।

9. रामराज जी आपने बताया कि आदरणीय तेज प्रताप यादव जी से आपका कभी सम्बंध दूर दूर तक नहीं रहा है। ऐसा मेरे पास सैकड़ों प्रूफ़ हैं की आप 2014-15 अब तक कितने बार आप आदरणीय तेज प्रताप यादव जी से मिले हैं, उनके साथ फ़ोटो खिचवाए हैं और उन फ़ोटो से आप अपना राजनीति चमकाए हैं। ज़रूरत पड़ने पर इसे सार्वजनिक भी किया जाएगा तब दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा।

10. चलिए कुछ समय के लिए मैं ये मान लेता हूँ की तेज प्रताप यादव जी ने आपको पिटा लेकिन क्यों पिटा इसका भी कोई ना कोई वजह होगा। ज़रूर आप कोई ना कोई गलती किए होंगे। जहां तक मुझे याद है चुकी मैं तेजप्रताप यादव जी के साथ पिछले 20 वर्षों से हूँ ये बात आपको भी पता है, की वो आपको अपने आवास पर बुलाकर पहले भी कई दफे आपके द्वारा किए गए कुकृत्यों की वजह से डाँट लगाए हैं। आप ने राष्ट्रीय जनता दल से शीर्ष नेतृत्व को गाली देने का भी काम किया था, आपने आदरणीय तेजस्वी यादव जी और आदरणीय श्री तेज प्रताप यादव जी को भी गाली देने का काम किया है इसका भी एक दो नहीं दर्जनों प्रूफ़ हमलोगों के पास है इसको भी ज़रूरत पड़ने पर सार्वजनिक किया जाएगा।

अंत में मैं यहीं आपसे कहना चाहता हूँ की पहले से स्क्रिप्ट की गई घिसी पिटी कहानी सुनाकर क्षण भर के लिए आप सस्ती लोकप्रियता तो बटोर सकते हैं लेकिन हमारे नेता छात्र और युवाओं के चहेते, गरीब, दलित, पिछड़ों के आवाज़ आदरणीय श्री तेज प्रताप यादव जी को आप बदनाम नहीं कर सकते हैं क्योंकि हमारे नेता आदरणीय तेजप्रताप यादव और आदरणीय श्री तेजस्वी यादव जी बिहार के जनता के दिलों में बसते हैं। जहां तक आपकी बात है तो आप अगर सच में पार्टी के समर्पित कार्यकर्ता होते तो आप अपने साथ हुई तथाकथित घटना को अपने नेता हम सब के नेता, बिहार के भविष्य आदरणीय तेजस्वी यादव जी और राजमाता श्रीमती राबड़ी देवी जी से समय लेकर उनसे मिल कर अपनी बातों को रखते ना की अपने आकाओं के कहने पर मीडिया के सामने आकर अपने पार्टी और अपने नेता का छीछालेदर कराते। जय तेज-तेजस्वी, जय लालू-राबड़ी, जय राजद जय बिहार

बता दें कि युवा राजद की नगर इकाई के प्रमुख रामराज यादव ने आरोप लगाया था कि तेजप्रताप ने शुक्रवार को उनकी मां राबड़ी देवी के घर के अंदर अपने समर्थकों की मदद से उन्हें निर्वस्त्र किया, पीटा और गाली दी। इसके बाद तेजप्रताप यादव ने ''इस्तीफा'' देने का इरादा जताया।
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Nitika

Related News

Recommended News

static