नीतीश ने पटना में तीन सड़क परियोजनाओं की शुरुआत की

6/24/2022 10:57:24 PM

पटना, 24 जून (भाषा) बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गंगा के किनारे 3831 करोड़ रुपये के एक्सप्रेस-वे जिसे ‘‘पटना मरीन ड्राइव’’ कहा गया है, के पहले चरण (दीघा से पटना चिकित्सा महाविद्यालय अस्पताल यानी पीएमसीएच तक) को शुक्रवार को जनता को समर्पित किया।

मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर आयोजित एक समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि समाजवादी नेता जयप्रकाश नारायण के नाम पर इस ‘‘जेपी गंगा पथ’’ पर काम 2013 में उनके जन्मदिन (11 अक्टूबर) को शुरू हुआ था और इसका पहला चरण एक दशक से भी कम समय में पूरा कर लिया गया।

नीतीश ने पटना शहर के दीघा से दीदारगंज तक 20 किलोमीटर लंबे इस एलिवेटेड पाथवे, जिसका एक हिस्सा बनकर तैयार हुआ है, के बारे में कहा, ‘‘पथ निर्माण विभाग के अधिकारियों ने मुझे आश्वस्त किया है कि जेपी गंगा पथ फेज 1 के शेष हिस्से का निर्माण कार्य अगले साल के अंत तक यानी वर्ष 2024 के शुरुआत में बनकर तैयार हो जाएगा।

मुख्यमंत्री ने 8.56 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित ‘‘अटल पथ’’ के दूसरे चरण का भी लोकार्पण किया। उन्होंने कहा कि यहां पहले रेलखंड था और इस रास्ते में पहले जो ट्रेन चल रही थी, उस पर कोई यात्रा नहीं करता था। केंद्र सरकार से बात करके काफी कोशिश करने के बाद यहां अटल पथ का निर्माण कराया गया।

नीतीश ने कहा कि अब अटल पथ को जे.पी.गंगा पथ से भी जोड़ दिया गया है। गांधी मैदान एवं पीएमसीएच तक अब लोग काफी कम समय में पहुंच सकेंगे।
उन्होंने कहा कि जे.पी. गंगा पथ का दूसरा चरण पूरा हो जाने पर दक्षिण हो या उत्तर, हर तरफ जाने में लोगों को सहूलियत होगी।
मुख्यमंत्री ने पटना के मीठापुर इलाका, जो तेजी से एक शिक्षा केंद्र के रूप में विकसित हो रहा है, में भी 20 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित रेलवे ऊपरी पुल के मीठापुर छोर का लोकार्पण किया।

इस मौके पर स्थानीय सांसद रविशंकर प्रसाद और राज्य के पथ निर्माण मंत्री नितिन नबीन सहित कई अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।


यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News

static