खाद की कमी पर 48 घंटे में बदले कृषि मंत्री, 1 सितंबर को उठाया था मुद्दा और 3 को कह डाली ये बात

9/5/2021 4:36:31 PM

 

 

औरंगाबादः बिहार के कृषि मंत्री अमरेन्द्र प्रताप सिंह 48 घंटों के भीतर अपने द्वारा दिए हुए बयान से ही पलट गए। जहां एक तरफ उन्होंने 1 सितंबर को केंद्र सरकार के सामने खाद की कमी की गुहार लगाई थी, वहीं दूसरी तरफ 3 सितंबर को कहा कि ऐसी कोई बात नहीं है।

कृषि मंत्री ने 1 सितंबर को खाद के मसले पर केन्द्रीय रसायन एवं उर्वरक मंत्री मनसुख मंडाविया से बात की थी। उस समय कृषि मंत्री ने कहा था कि 'बिहार को वर्तमान खरीफ मौसम में 31 अगस्त 2021 तक 5.90 लाख मीट्रिक टन यूरिया की आपूर्ति हुई है। यह पिछले साल इस अवधि में की गई 8.12 लाख मीट्रिक टन की आपूर्ति से 2.22 लाख मीट्रिक टन कम है। वहीं राज्य के कृषि मंत्री की केंद्रीय रसायन एवं उर्वरक मंत्री से हुई बातचीत की जानकारी खुद कृषि विभाग ने जारी की थी। विभाग ने बताया था कि कृषि मंत्री ने जल्द से जल्द 1 लाख टन यूरिया बिहार को आवंटित करने की मांग की है।

बता दें कि बिहार के किसान खाद की कमी से परेशान हैं, लेकिन कृषि मंत्री ने 3 सितंबर को एक कार्यक्रम में कहा कि राज्य में खाद की कोई कमी नहीं और ना ही कालाबाजारी है। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Nitika

Related News

Recommended News

static