बारात से पहले पहुंचकर चाइल्ड लाइन टीम ने रुकाया बाल विवाह, वजह जानकर हो जाएंगे हैरान

11/27/2022 3:58:07 PM

कोडरमा: झारखंड के कोडरमा जिले में 13 वर्षीय मासूम बाल विवाह की भेंट चढ़ने से बाल-बाल बच गई। सूचना पाकर मौके पर पहुंची चाइल्ड लाइन कोडरमा की टीम ने बालिका को अपने संरक्षण में लेकर सीडब्ल्यूसी कोडरमा में प्रस्तुत किया।

चाइल्ड लाइन ने रोका बाल विवाह
मामला जिले के थाना क्षेत्र अंतर्गत बरसोतियावर का है। जानकारी के मुताबिक बीते शनिवार को एक 13 वर्षीय किशोरी का बाल विवाह हो रहा था। किशोरी की सहेलियों ने इसकी सूचना चाइल्ड हेल्पलाइन नंबर 1098 दी और उनसे शादी रोकने की गुहार लगाई। सूचना पाकर मौके पर पहुंची चाइल्ड लाइन की टीम ने किशोरी का बाल विवाह रुकाया। पुलिस के पहुंचने से पहले किशोरी की मां और दादी ने उसे छिपा दिया था और उसकी जगह उसकी छोटी बहन को थाने भेज दिया था। इस दौरान पुलिस ने किशोरी के छोटे भाई से पूछताछ की तो उसने सब कुछ सच बताया, जिसके बाद पुलिस ने दोबारा घर पहुंच कर किशोरी को बरामद किया और थाने ले आई।

किशोरी चाहती है पढ़ना
पुलिस के पूछने पर किशोरी ने बताया कि वह आदर्श मध्य विद्यालय में सातवीं कक्षा में पढ़ती है। उसका 17 और 9 साल का भाई है और 12 साल की बहन है। उसके पिता बस में कंडक्टर हैं। पिता के शराब पीने की वजह से मां और दादी उसकी जल्द गिरिडीह जिले के जमुआ थाना अंतर्गत चपरखोर गांव में एक 22 वर्षीय युवक से शादी करा रही थी। उसने बताया कि वह पढ़ना चाहती है। साथ ही घर भी नहीं जाना चाहती है।

कस्तूरबा में किया जाएगा नामांकन
वहीं, सीडब्ल्यूसी के सदस्य शैलेश कुमार ने बताया कि फिलहाल बच्ची को चाइल्ड लाइन के पास ही रखा जाएगा। साथ ही उसके पढ़ने को लेकर कस्तूरबा विद्यालय में नामांकन के लिए शिक्षा पदाधिकारी को लिखा जाएगा। 
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

Khushi

Related News

Recommended News

static