पहली बार बाढ़ के पानी से बुझेगी लोगों की प्यास, देश के लिए मिसाल बनी CM नीतीश की गंगाजल आपूर्ति योजना

11/27/2022 1:56:54 PM

पटनाः बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की गंगाजल आपूर्ति योजना देश के लिए मिसाल बन गई है। इस योजना के तहत देश में पहली बार बाढ़ के पानी से लोगों की प्यास बुझेगी। गंगाजल आपूर्ति योजना का उद्देश्य निर्मित विशाल जलाशयों में मानसून के महीनों में नदी में आए बाढ़ के पानी का भंडारण करना है। नीतीश कुमार ने इस बाढ़ के पानी को पीने के पानी में बदलने की पहल की है।

PunjabKesari

इन तीन जिलों में दूर होगा पेयजल संकट 
दरअसल, गंगाजल आपूर्ति योजना के तहत गंगाजल को स्टोर कर नवादा, राजगीर, गया एवं बोधगया के लोगों को सालों भर पेयजल की आपूर्ति की जाएगी। इस योजना से इन तीन शहरों में लंबे समय से चली आ रही पानी की समस्या दूर होगी। गया को 43 मिलियन क्यूबिक मीटर तो वहीं राजगीर को सात मिलियन क्यूबिक मीटर पानी मुहैया कराया जाएगा।

PunjabKesari

साल 2019 में इस योजना को मिली थी मंजूरी
बता दें कि साल 2019 के दिसंबर महीने में नीतीश कैबिनेट ने गंगाजल उद्वह योजना को मंजूरी दी थी। इस योजना के तहत 190 किलोमीटर लंबे पाइपलाइन के गंगा नदी का पानी मोकामा के मराची से राजगीर होते हुए गया तक लाया जाएगा। वहीं नीतीश कुमार का यह ड्रीम प्रोजेक्ट दक्षिण बिहार के लिए लाइफलाइन साबित होगा।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Ramanjot

Related News

Recommended News

static