PM मोदी से मुलाकात के बाद BJP नेता बोले- वह जो भी निर्णय लेंगे, सभी को स्वीकार्य होगा

8/24/2021 11:34:29 AM

नई दिल्ली/पटनाः जातीय जनगणना के वास्ते दबाव बनाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलने गए दस सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल में शामिल भाजपा नेता जनक राम ने सोमवार को मोदी की तुलना ‘एक परिवार के अभिभावक' के तौर पर की और कहा कि वह इस मुद्दे पर जो भी निर्णय लेंगे, वह सभी को ‘स्वीकार्य' होगा।

इस बैठक के बाद जनक राम ने संवाददाताओं से बातचीत में राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के तेजस्वी यादव जैसे विपक्षी नेताओं का नाम लिए बगैर उनपर निशाना साधा और कहा कि कई नेता जाति एवं समुदाय के नाम पर अपना करियर आगे बढ़ाते हैं लेकिन बाद में अपने ही परिवारों को आगे बढ़ाने में व्यस्त हो जाते हैं। बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अगुवाई वाली सरकार में मंत्री राम ने इस सवाल का सीधा जवाब नहीं दिया कि क्या वह जातीय जनगणना का समर्थन करते हैं, लेकिन यह जरूर कहा कि मोदी पूरी तरह समझते हैं कि कैसे देश का सर्वांगीण विकास हो सकता है और वह उस हिसाब से काम कर रहे हैं। तेजस्वी यादव और कई अन्य दलों के प्रतिनिधि कुमार की अगुवाई वाले प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा थे। यह प्रतिनिधिमंडल प्रधानमंत्री से मिला। वैसे तो भाजपा ने इस मांग में बिहार विधानसभा से पारित किए गए दो प्रस्तावों का समर्थन किया था लेकिन पार्टी नेतृत्व ने इस मुद्दे पर अबतक कोई स्पष्ट रूख नहीं अपनाया है।

उधर, कई क्षेत्रीय दलों ने इस मुद्दे को लपक लिया है, उनमें से कई दल विभिन्न राज्यों में एक दूसरे के प्रतिद्वंद्वी हैं। राम ने कहा कि अनुसूचित जातियों एवं जनजातियों की जनसंख्या की नियमित गणना की जाती है और मोदी स्वयं अन्य पिछड़ा वर्ग से आते हैं। उन्होंने कहा कि पहली बार देश को एक ऐसा प्रधानमंत्री मिला है, जिसने विकास को जाति जैसे मुद्दों से आगे रखा है। दलित नेता ने कहा, ‘‘सभी ने अपने-अपने विचार रखे और मोदी ने परिवार के अभिभावक की भांति उनकी बातें धैर्य से सुनीं.... जो भी वह फैसला करेंगे, वह सभी को स्वीकार्य होगा।''


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Ramanjot

Related News

Recommended News

static