हौसले को सलामः एक पैर पर 1 KM कूदकर स्कूल जाती है दिव्यांग, हादसे में मासूम का काटना पड़ा था पैर

5/26/2022 1:01:06 PM

 

जमुईः बिहार के जमुई जिले से दिव्यांग छात्रा के हौसले को सलाम करता हुआ एक मामला सामने आया है, जहां पर सीमा नाम की एक मासूम ने हादसे में अपना एक पैर गंवा दिया। इसके बावजूद भी उसमें पढ़ाई का जुनून कम नहीं हुआ। वह एक पैर पर 1 किमी. कूदकर स्कूल जाती रही। उसका कहना है कि पढ़ती हूं ताकि गरीबों को पढ़ा सकूं। वहीं अब सीमा की मदद के लिए कई लोग आगे आए हैं।
PunjabKesari
दरअसल, सीमा खैरा प्रखंड के नक्सल प्रभावित इलाके फतेपुर गांव में रहती है। उसके पिता का नाम खिरन मांझी है। सीमा की उम्र 10 साल है। 2 साल पहले एक हादसे में उसे एक पैर गंवाना पड़ा था। इस हादसे ने उसके पैर छीने, लेकिन हौसला नहीं। आज वह अपने गांव में लड़कियों की शिक्षा को बढ़ावा देने के प्रति एक मिसाल कायम कर रही है।
PunjabKesari
वहीं सीमा बड़ी होकर टीचर बनना चाहती है। उसके हौसले के आगे मुसीबतों ने भी हार मान ली है। एक पैर से एक किलोमीटर पैदल चलकर सीमा रोजाना स्कूल जाती है और मन लगाकर पढ़ना चाहती है। वो टीचर बनकर अपने आसपास के लोगों को शिक्षित करना चाहती है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Nitika

Related News

Recommended News

static