सुशील ने कांग्रेसियों के आत्मचिंतन को बताया नाटक, कहा- उनमें गांधी परिवार से मुक्ति पाने का साहस नहीं

3/14/2022 10:17:57 AM

पटनाः बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राज्यसभा सदस्य सुशील कुमार मोदी ने पांच राज्यों की विधानसभा के चुनाव में हार पर कांग्रेसियों के आत्मचिंतन को नाटक बताया और कहा कि उनमें गांधी परिवार से मुक्ति पाने का साहस नहीं है।

सुशील मोदी ने रविवार को ट्वीट कर कहा कि पांच राज्यों की विधानसभा के चुनाव मेें कांग्रेस की शर्मनाक हार के बाद भी कांग्रेसियों में हिम्मत नहीं है कि वे पार्टी को गांधी परिवार से मुक्त करने की आवाज उठाएं। उन्होंने कहा कि एक और राज्य कांग्रेस-मुक्त हो गया और अगले चुनाव में राजस्थान-छत्तीसगढ़ में भी पार्टी का सूपड़ा साफ होगा।

Koo App
प्रियंका गांधी वाड्रा ने यूपी में खुद को कांग्रेस का चेहरा बताया था और ” मैं लड़की हूँ, लड़ सकती हूँ ” के नारे के साथ महिलाओं को भरमाने की कोशिश की थी, लेकिन जनता ने उन्हें केवल 2 सीटें दीं। इसके बावजूद कांग्रेस के किसी नेता ने महासचिव पद से उनका इस्तीफा नहीं मांगा। घोर परिवारवाद और भ्रष्टाचार में डूबी पार्टी कई साल से हार पर आत्मचिंतन का केवल नाटक कर रही है।
- Sushil Kumar Modi (@sushilmodi) 13 Mar 2022

भाजपा सांसद ने कहा, 'प्रियंका गांधी वाड्रा ने यूपी में खुद को कांग्रेस का चेहरा बताया था और 'मैं लड़की हूं, लड़ सकती हूं' के नारे के साथ महिलाओं को भरमाने की कोशिश की थी लेकिन जनता ने उन्हें केवल दो सीटें दीं। इसके बावजूद कांग्रेस के किसी नेता ने महासचिव पद से उनका इस्तीफा नहीं मांगा।' उन्होंने कहा कि घोर परिवारवाद और भ्रष्टाचार में डूबी पार्टी कई साल से हार पर आत्मचिंतन का केवल नाटक कर रही है।

सुशील मोदी ने कहा, 'सोनिया गांधी कांग्रेस की कार्यवाहक अध्यक्ष हैं, वर्षों से कोई पूर्णकालिक अध्यक्ष नहीं और राहुल गांधी डीफैक्टो सुप्रीमो की तरह काम कर रहे हैं।' उन्होंने कहा कि कांग्रेसियों ने आंतरिक लोकतंत्र और पार्टी बचाने की इच्छा शक्ति तक खो दी है।'


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Ramanjot

Related News

Recommended News

static