हिम्मत है तो RJD की रैली में पीएम-प्रत्याशी का नाम घोषित करे विपक्ष, सुशील मोदी ने दी चुनौती

2/25/2024 11:03:35 AM

पटना: पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि जिस इंडी गठबंधन में न नीतीश कुमार हैं, न जयंत चौधरी और न ममता बनर्जी अब तक सीट साझेदारी के लिए तैयार हैं, वह टूटा-फूटा जर्जर गठबंधन संसदीय चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाले एनडीए का विजय रथ नहीं रोक पाएगा। 

"महाराष्ट्र में टूट चुकी हैं शरद पवार और उद्धव ठाकरे की पार्टियां"
सुशील मोदी ने कहा कि राजद 3 मार्च की पटना रैली को लेकर बड़बोले दावे करने से पहले बताए कि क्या ममता बनर्जी, अरविंद केजरीवाल और शरद पवार उसमें शामिल होने आएंगे? यदि हिम्मत है तो रैली में विपक्ष अपने पीएम-उम्मीदवार की घोषणा करे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के बीच दिल्ली में समझौता हुआ, लेकिन पंजाब में कोई किसी के लिए सीट छोड़ने को तैयार नहीं। महाराष्ट्र में शरद पवार और उद्धव ठाकरे की पार्टियां विधिवत टूट चुकी हैं। 

"राजद आज भी राम, रामचरित मानस के विरोधियों की पार्टी"
सुशील मोदी ने कहा कि राजद के राजकुमार आडवाणी जी की रथयात्रा रोकने और रामकाज में विघ्न डालने के अपने पिता के जिस कृत्य पर छाती फुला रहे हैं, उसके लिए तो उन्हें राम-भक्तों से क्षमा मांगनी चाहिए। उन्होंने कहा कि भाजपा का रथयात्री भारत-रत्न से विभूषित हुआ और अयोध्या में राम-मंदिर भी बन गया, जबकि रथयात्रा रोकने वाला मुख्यमंत्री चार मामलों में जेल गया, लोकसभा में उसकी पार्टी का कोई सांसद नहीं रहा, राजपाट छिन गया और परिवार के आधा दर्जन लोग घोटालों के अभियुक्त होकर अदालतों के चक्कर काटने लगे। मोदी ने कहा कि राजद आज भी राम, रामचरित मानस और सनातन धर्म के विरोधियों की पार्टी है। इसकी यात्रा और रैली को जनता का समर्थन नहीं मिलेगा।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Ramanjot

Related News

static