सम्राट अशोक पर गलत टिप्पणी करने वाले के खिलाफ भाजपा प्रदेशाध्यक्ष ने प्राथमिकी दर्ज करायी

1/14/2022 9:52:12 AM

पटना, 13 जनवरी (भाषा) भारतीय जनता पार्टी की बिहार इकाई के अध्यक्ष संजय जायसवाल ने सम्राट अशोक के संदर्भ में गलत टिप्पणी करने और स्वयं को भाजपा के सांस्कृतिक प्रकोष्ठ का संयोजक बताने वाले लेखक दया प्रकाश सिन्हा के खिलाफ पटना शहर के कोतवाली थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी है।

जायसवाल ने बृहस्पतिवार को कहा कि सिन्हा ने एक हिन्दी समाचार पोर्टल पर सम्राट अशोक के बारे में गलत एवं बेबुनियादी टिप्पणी की है जिससे बिहार ही नहीं बल्कि देश भर के लोग आहत हैं।

पुलिस को दी गई तहरीर में कहा गया है कि सिन्हा का भाजपा से कोई संबंध नहीं है और वह गलत बयानी कर पार्टी की छवि खराब करने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने प्रशासन से ऐसी गलत टिप्पणी करने वाले के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की मांग की।

प्रदेश अध्यक्ष के निर्देश पर पटना शहर के कोतवाली थाना में पार्टी के प्रदेश मुख्यालय प्रभारी सुरेश रूंगटा, अधिवक्ता एस. डी. संजय, राकेश कुमार ठाकुर और अंजनी कुमार सिंह ने उक्त प्राथमिकी दर्ज करायी है।

साम्राट अशोक मौर्य वंश के संस्थापक चन्द्रगुप्त मौर्य के पौत्र हैं।

इस संबंध में बिहार में सत्ताधारी राजग में शामिल हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) के प्रमुख और पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने बृहस्पतिवार को ट्वीट किया, ‘‘कुछ लोग सम्राट अशोक का अपमान सिर्फ इसलिए कर रहे हैं क्योंकि वह पिछड़ी जाति के थे। ऐसे सामंती लोग नहीं चाहते हैं कि कोई दलित, आदिवासी, या पिछड़े वर्ग का बच्चा सत्ता के शीर्ष पर बैठे।’’
उन्होंने आगे कहा, ‘‘माननीय राष्ट्रपति से आग्रह है कि हमारे शौर्य के प्रतिक सम्राट अशोक पर टिप्पणी करने वालों का पद्म सम्मान वापस लें।’’
भाजपा नेता संजय जायसवाल द्वारा सम्राट अशोक के संदर्भ में लेखक दया प्रकाश सिन्हा के खिलाफ दर्ज करायी गयी उक्त प्राथमिकी को बिहार से सटे चुनावी राज्य उत्तर प्रदेश में हाल के दिनों में ओबीसी समुदाय से आने वाले तीन मंत्रियों के पार्टी छोड़ देने पर भाजपा द्वारा ‘‘डैमेज कंट्रोल’’ करने की एक कोशिश के रूप में देखा जा रहा है।


यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News

static