लालू परिवार को जमीन देने वालों पर CBI कसेगी शिकंजा, अब नौकरी से भी धोना पड़ सकता है हाथ

5/22/2022 2:35:38 PM

 

पटनाः राजद अध्‍यक्ष लालू प्रसाद यादव, उनकी पत्‍नी राबड़ी देवी, बेटी मीसा भारती सहित परिवार के अन्‍य सदस्‍यों और रिश्‍तेदारों के ठिकानों पर छापेमारी में सीबीआई (केंद्रीय अन्‍वेषण ब्‍यूरो) के हाथ कई अहम सुराग लगे हैं। इससे अब जमीन देकर नौकरी देने वालों की जमीन तो गई। साथ ही अब उन्हें नौकरी से भी हाथ धोना पड़ सकता है।

दरअसल, जमीन देने के बदले नौकरी पाने वाले 12 लोग सरकारी नौकरी से हटाए जा सकते हैं, जिनमें राजकुमार सिंह, मिथिलेश कुमार, अजय कुमार, संजय राय, धर्मेंद्र राय, विकास कुमार, पिंटू कुमार, दिलचंद कुमार, प्रेमचंद कुमार, लाल चंद कुमार (सभी महुआबाद, धनौत, पटना निवासी), ह्दयानंद चौधरी (इटवा, मीरगंज, गोपालगंज निवासी) व अभिषेक कुमार (बिंडौल, बिहटा, पटना निवासी) शामिल हैं। सीबीआई की दो दर्जन से अधिक अधिकारियों की टीम ने एक साथ महुआबाद, पटना और गोपालगंज में छापेमारी की थी। साथ ही नौकरी पाने वालों एवं उनके परिजनों से घंटों पूछताछ की थी।

वहीं सभी नौकरी पाने वालों को सीबीआई द्वारा दर्ज की गई प्राथमिकी में नामजद अभियुक्त बनाया गया है। बता दें कि नौकरी के बदले 7 अभियुक्तों ने लालू परिवार को एक लाख वर्गफुट से अधिक जमीन दी थी। ये जमीन पूर्व सीएम राबड़ी देवी एवं उनकी पुत्रियों मीसा भारती व हेमा यादव के नाम भी दी गई थी।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Nitika

Related News

Recommended News

static