PM मोदी से बातचीत के बाद नीतीश बोले- कोरोना जांच की संख्या को फिर से बढा़ने की जरूरत

3/18/2021 9:55:26 AM

पटनाः बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में कोविड-19 को लेकर वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ हुए संवाद कार्यक्रम के बाद बुधवार को कहा कि प्रदेश में कोरोना वायरस की जांच की संख्या को फिर से बढ़ाने की जरूरत है और तय किया गया है कि प्रतिदिन 70 हजार नमूनों की जांच की जाए।

बिहार विधान परिषद के मुख्यद्वार के समीप पत्रकारों के साथ बातचीत के दौरान नीतीश कुमार ने कहा ,“आज कोरोना वायरस को लेकर प्रधानमंत्री जी ने सभी मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक की है, जिसमें प्रस्तुतीकरण के माध्यम से कोरोना वायरस की वर्तमान स्थिति की जानकारी दी गई है। जिन राज्यों में पहले की तुलना में कोरोना वायरस तेजी से बढ़ रहा है, वहां के मुख्यमंत्रियों ने बैठक में अपनी बातें रखीं।” उन्होंने कहा, “बिहार में वैसी स्थिति अभी नहीं है। प्रतिदिन इसको लेकर हमलोग सजग हैं। बाहर से जो लोग आते हैं, उन पर नजर रखना जरुरी है। बाहर से आने वाले कई लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। जल्द ही हम इस पर बैठक करेंगे।”

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना वायरस का पता लगाने के लिए जांच की संख्या को फिर से बढ़ाना है। उन्होंने कहा कि तय किया गया है कि जांच की संख्या को प्रतिदिन 70 हजार करना है और अधिक से अधिक जांच आरटीपीसीआर से हो, इसको लेकर सारे इंतजाम किए जा रहे हैं। सीएम ने कहा कि टीकाकरण के लिए सभी लोगों को प्रेरित भी किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अभी प्रतिदिन कोरोना वायरस के 20 से लेकर 48 तक मामले मिल रहे हैं। नीतीश कुमार ने कहा कि अभी स्कूल और कॉलेज खुले रहेंगे और होली के अवसर पर बहुत चीजों को सार्वजनिक रुप से नहीं करने की सलाह पहले ही दी जा चुकी है। उन्होंने कहा कि बिहार के लोग देशभर में रहते हैं और होली के अवसर पर लोग विशेष तौर पर अपने घर जाते हैं, इसलिए ज्यादा सतर्क रहने की जरुरत है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Ramanjot

Related News

Recommended News

static