Bihar Floor Test: बिहार में बनी रहेगी NDA की सरकार, नीतीश कुमार ने साबित किया बहुमत

2/12/2024 4:10:01 PM

पटनाः बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) सरकार बनी रहेगी। एनडीए सरकार ने फ्लोर टेस्ट पास कर लिया है। नीतीश कुमार ने विधानसभा में विश्वास मत हासिल किया। सरकार के पक्ष में 129 वोट पड़े हैं। राजद ने विधानसभा से वॉकआउट कर दिया है। बिहार विधानसभा में कुल 243 सदस्य हैं। वहीं इससे पहले नीतीश कुमार ने विधानसभा में कहा कि हमने सरकार में आकर हिंदू-मुस्लिम का झगड़ा बंद करवाया है। 

PunjabKesari

राजद के 3 विधायकों ने बदला पाला
सदन में स्पीकर के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पेश कर दिया गया है। स्पीकर की कुर्सी से अवध बिहारी चौधरी को हट गए हैं। महेश्वर हजारी को स्पीकर की कुर्सी पर बैठा दिया गया है। स्पीकर अवध बिहारी चौधरी के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पास हो गया है। स्पीकर को हटाए जाने के पक्ष में पड़े 125 वोट और विपक्ष में 112 मत पड़े हैं। वहीं सदन की कार्यवाही के दौरान राजद को एक और झटका लगा है। राजद के 3 विधायकों ने पाला बदल लिया है। प्रह्लाद यादव, चेतन आनंद और नीलम देवी सत्ता पक्ष के खेमे में बैठे।

उप मुख्यमंत्री विजय सिन्हा का तेजस्वी पर हमला
इस पर बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम और राजद नेता तेजस्वी यादव का कहना है, ''मतदान खत्म होने तक विधायक अपनी-अपनी सीटों पर बैठे रहें, नहीं तो वोटिंग अवैध मानी जाएगी।'' उन्होंने कहा कि "सबसे पहले हम मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को धन्यवाद देना चाहते हैं कि लगातार 9 बार मुख्यमंत्री पद की शपथ लेकर इतिहास रच दिया। 9 बार तो शपथ ली ही लेकिन एक ही टर्म में उन्होंने तीन-तीन बार शपथ ली है। हमने ऐसा अद्भुत नजारा पहले कभी नहीं देखा।" उप मुख्यमंत्री विजय सिन्हा ने तेजस्वी पर हमला करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जंगलराज को जनता राज कह कर आपको सुधरने का मौका दिया लेकिन नेचर और सिग्नेचर नहीं बदलता है।

PunjabKesari

Live Updates:-

  • बिहार में बनी रहेगी NDA की सरकार, नीतीश कुमार ने साबित किया बहुमत

  • नीतीश कुमार ने विधानसभा में हासिल किया विश्वास मत, सरकार के पक्ष में पड़े 129 वोट 

  • RJD ने विधानसभा से किया वॉकआउट

  • सम्राट चौधरी पहले हमारी पार्टी में थे, विधानसभा में बोले RJD नेता तेजस्वी

  • विधानसभा में बोले तेजस्वी यादव, नीतीश कुमार हमारे आदरणीय थे और रहेंगे

  • स्पीकर को हटाए जाने के पक्ष में पड़े 125 वोट और विपक्ष में पड़े 112 मत

  • स्पीकर अवध बिहारी चौधरी के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पास

  • जदयू विधायक संजीव का बड़ा बयान- पुलिस ने किया था डिटेन

  • राजद को एक और झटका...  राजद के 3 विधायकों ने पाला बदला

  • प्रह्लाद यादव सत्ता पक्ष में बैठे, चेतन आनंद और नीलम देवी भी सत्ता पक्ष के खेमे में बैठे

  • महेश्वर हजारी को स्पीकर की कुर्सी पर बैठाया गया

  • स्पीकर के खिलाफ सदन में अविश्वास प्रस्ताव, कुर्सी से हटे अवध बिहारी चौधरी


    PunjabKesari

    जनता दल यूनाइटेड अध्यक्ष नीतीश कुमार के एक बार फिर पाला बदलने के कारण बिहार में बनी राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) सरकार आज सोमवार को विधानसभा में विश्वास मत हासिल करेगी। बिहार विधानमंडल के बजट सत्र की शुरूआत सोमवार को द्विसदनीय विधायिका के सदस्यों को राज्यपाल के पारंपरिक संबोधन के साथ शुरू हो गई है। विधानसभा पहुंचे बिहार के उपमुख्यमंत्री विजय कुमार सिन्हा ने कहा, "लोकतंत्र का सम्मान होगा, लोकतंत्र की रक्षा होगी और लोकतंत्र को कलंकित करने वाले लज्जित होंगे..."
     

PunjabKesari

विपक्षी दलों के ‘महागठबंधन' के सबसे बड़े घटक दल राष्ट्रीय जनता दल (राजद) से जुड़े चौधरी ने स्पष्ट कर दिया है कि नई सरकार के गठन के तुरंत बाद राजग के विधायकों द्वारा पेश किए जाने वाले प्रस्ताव के बावजूद वह पद नहीं छोड़ेंगे। बिहार में सत्ताधारी राजग में जदयू, भाजपा (भारतीय जनता पार्टी) और पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी की पार्टी हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) तथा एक निर्दलीय विधायक शामिल हैं। 

सत्तारूढ़ गठबंधन के पास 243 सदस्यीय बिहार विधानसभा में 128 विधायक हैं, जो बहुमत से छह अधिक है। रविवार को जदयू विधायक दल की बैठक में कुछ विधायकों की अनुपस्थिति और बोधगया में भाजपा की दो दिवसीय प्रशिक्षण कार्यशाला में कुछ विधायकों की अनुपस्थिति के बीच महागठबंधन को सत्तापक्ष पर निशाना साधने का मौका मिल गया। महागठबंधन दावा कर रहा है कि विधानसभा अध्यक्ष को हटाने के लिए राजग बहुमत के लिए आवश्यक 122 का आंकड़ा नहीं जुटा पाएगा। जदयू और भाजपा दोनों ने दावा किया है कि सभी विधायक सदन के अंदर मौजूद रहेंगे।

PunjabKesari

जदयू ने विधायकों को एकजुट रखने के प्रयास के तहत उन्हें विधायक दल की बैठक के बाद शहर के एक होटल में ठहराया। इसी तरह कई भाजपा विधायकों को कार्यशाला से लौटने पर उपमुख्यमंत्री विजय कुमार सिन्हा के आवास पर रुकने के लिए कहा गया। महागठबंधन के पास 114 विधायक हैं जो बहुमत से आठ कम है। महागठबंधन ने अपने सभी विधायकों के एकजुट पर जोर देते हुए दावा किया है कि राजग खेमे में जदयू के कुछ लोग इस अचानक बदलाव से नाखुश हैं और वे बाजी पलट सकते हैं। महागठबंधन में शामिल राजद, कांग्रेस, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी-मार्क्सवादी लेनिनवादी (भाकपा-माले), भारतीय कमयुनिस्ट पार्टी (भाकपा) और मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) से जुड़े कई विधायक गठबंधन के नेता तेजस्वी यादव के आवास पर रुके हुए हैं।

इस बीच प्रदेश भाजपा अध्यक्ष और उपमुख्यमंत्री सम्राट चौधरी ने खरीद-फरोख्त के किसी भी प्रयास के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी है। रिकॉर्ड नौवीं बार मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने वाले नीतीश कुमार जदयू के अंदुरूनी हालात पर भी करीब से नजर रख रहे हैं। उन्होंने विधायक दल की बैठक में भाग लिया और एक दिन पहले आयोजित दोपहर भोज में भी भाग लिया जिसे विश्वास मत से पहले एकजुटता बनाए रखने की कवायद के तौर पर देखा गया।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Nitika

Recommended News

Related News

static