Narkatiaganj Assembly Seat: नरकटियागंज विधानसभा चुनाव के पिछले नतीजे II Bihar Election 2020

8/28/2020 6:30:47 PM

 

पश्चिम चंपारणः बिहार के 243 विधानसभा सीटों में से एक नरकटियागंज विधानसभा सीट क्रम संख्या में तीसरे नंबर पर है। पश्चिम चंपारण (West Champaran) जिले में स्थित यह विधानसभा क्षेत्र वाल्मीकि नगर लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र के अंतर्गत आता है।

बता दें कि परिसीमण के बाद साल 2008 में यह विधानसभा क्षेत्र अस्तित्व में आया और साल 2010 में इस सीट पर हुए चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (BJP) के सतीश चंद्र दुबे विधायक चुने गए। इसके बाद 2014 में हुए उपचुनाव में भी इस सीट पर भारतीय जनता पार्टी का ही कब्जा रहा और रश्मि वर्मा विधायक चुनी गईं। रश्मि वर्मा नरकटियागंज (Narkatiaganj) की मेयर भी रह चुकी थी। हालांकि 2015 में इस सीट को बीजेपी बचाने में कामयाब नहीं हो पाई और कांग्रेस (Congress) के विनय वर्मा विधायक चुने गए।

नरकटियागंज विधानसभा सीट 2015 विधानसभा चुनाव के नतीजे
अब अगर आंकड़ों के हिसाब से बात करें तो साल 2015 के विधानसभा चुनाव में इस सीट पर कांग्रेस के विनय वर्मा ने भारतीय जनता पार्टी (BJP) की रेणु देवी को 16 हजार 61 वोटों से हराया और विधायक चुने गए। विनय वर्मा को कुल 57 हजार 212 वोट मिले थे जबकि दूसरे नंबर पर रही रेणु देवी को कुल 41 हजार 151 वोट मिले थे तो वहीं तीसरे स्थान पर रहे निर्दलीय रश्मि वर्मा को 39 हजार 200 वोट मिले थे।
PunjabKesari
नरकटियागंज विधानसभा उपचुनाव 2014 के नतीजे
वहीं 2014 में हुए विधानसभा उपचुनाव में परिणामों पर नजर डालें तो बीजेपी (BJP) की रश्मि वर्मा ने कांग्रेस के फखरुद्दीन खान को 15 हजार 742 वोटों से हराया और विधायक चुनी गईं। रश्मि वर्मा को कुल 64 हजार 602 वोट मिले थे जबकि दूसरे नंबर पर रहे फखरुद्दीन खान को कुल 48 हजार 860 वोट मिले थे तो वहीं तीसरे स्थान पर रहे जेपीएस (JPS) के रामभजु महतो को मात्र 3 हजार 769 वोट मिले थे।
PunjabKesari
नरकटियागंज विधानसभा चुनाव 2010 के नतीजे
वहीं 2010 में हुए विधानसभा चुनाव परिणामों पर नजर डालें तो बीजेपी (BJP) के सतीश चंद्र दुबे ने कांग्रेस के आलोक प्रसाद वर्मा को 20 हजार 228 वोटों से हराया और विधायक बने। सतीश चंद्र दुबे को कुल 45 हजार 22 वोट मिले थे जबकि दूसरे नंबर पर रहे आलोक प्रसाद वर्मा को कुल 24 हजार 794 वोट मिले थे तो वहीं तीसरे स्थान पर रहे निर्दलीय फखरुद्दीन खान को कुल 22 हजार 381 वोट मिले थे।
PunjabKesari
बिहार में विधानसभा चुनाव की तारीख जैसे-जैसे नजदीक आती जा रही है। राजनीतिक दलों के नेता भी प्रचार-प्रसार में जुट गए हैं। हालांकि कोरोना की वजह से इस बार प्रचार के लिए नेता क्षेत्रों में कम जा रहे हैं और सोशल मीडिया के जरिए ज्यादा संवाद कर रहे है। अब देखना होगा कि सोशल मीडिया के जरिए कौन नेता अपनी बातों को जनता तक पहुंचाने में कामयाब होते हैं।


Nitika

Related News