जातीय जनगणना को लेकर तेजस्वी ने किया सरकार का घेराव, ट्वीट के बाद गरमाई बिहार की राजनीति

5/4/2022 4:05:27 PM

 

पटना(अभिषेक कुमार सिंह): जातीय जनगणना को लेकर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने एक बार फिर सरकार को घेरा है। तेजस्वी ने ऐलान करते हुए कहा कि यदि जातीय जनगणना नहीं हुआ तो बिहार में कोई भी जनगणना नहीं होने देंगे। वहीं नेता प्रतिपक्ष के इस ट्वीट के बाद राजनीति शुरू हो गई है।


तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर लिखा कि भाजपा सामाजिक न्याय विरोधी पार्टी है। बिहार विधानसभा से जातीय जनगणना करवाने का हमारा प्रस्ताव 2 बार सर्वसम्मति से पारित हो चुका है लेकिन भाजपा सरकार और केंद्रीय गृह राज्य मंत्री रामसूरत राय ने लिखित में जातीय जनगणना करवाने से मना कर दिया है।

बिहार में होंगी सारी जनगणनाएंः रामसूरत राय
तेजस्वी के ट्वीट के बाद बिहार सरकार में भाजपा कोटे के मंत्री रामसूरत राय ने कहा कि बिहार में सारी जनगणनाएं होंगी। उनके चैलेंज पर रामसूरत राय ने कहा कि तेजस्वी एक जनप्रतिनिधि है उनके लिए ऐसा चैलेंज लेना गलत बात है। वही भाजपा को न्याय विरोधी कहने पर रामसूरत राय ने कहा तेजस्वी हमारे विरोधी है इसलिए ऐसा बोल रहे हैं।

कला संस्कृति मंत्री ने कही ये बात
वहीं बिहार सरकार के कला संस्कृति मंत्री आलोक रंजन ने कहा कि तेजस्वी यादव अब सिर्फ जाति-जाति ही कर रहे हैं। जैसे मछली पानी में जाने के लिए छटपटाती है, वैसे ही तेजस्वी यादव गद्दी के लिए छटपटा रहे हैं लेकिन जनता उनके राज को देख चुकी है, वो पुनः उन्हें वापस आने नहीं देगी।

जगदानंद सिंह ने किया तेजस्वी का समर्थन
इस मुद्दे पर राजद प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने तेजस्वी का समर्थन किया है। जगदानंद सिंह ने कहा कि तेजस्वी यादव ने वही कहा है, जो वर्षो से राजद अपनी बातों को कहता रहा है। सांसद हो या हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष हम सभी ने ये बात कही है। जातीय जनगणना का कमिटमेंट पार्लियामेंट और सरकार ने मान लिया था और 2012 में जातीय जनगणना हुई भी थी। ये कोई नई बात नहीं हो रही है।
 

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Nitika

Related News

Recommended News

static