अब दोनों पैरों पर दौड़कर स्कूल जाएगी जमुई की सीमा, इंजीनियरों ने 12 घंटे में तैयार किया कृत्रिम पैर

5/28/2022 11:59:35 AM

जमुईः बिहार के जमुई जिले में एक पैर से स्कूल जा रही सीमा नाम की बच्ची का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। सीमा ने हादसे में अपना एक पैर तो गंवा दिया, लेकिन उसका हौसला कम नहीं हुआ। वह एक पैर पर कूद-कूद कर एक किलोमीटर दूर स्कूल जाती थी। सीमा ने जज्बे को देखते हुए छह इंजीनियरों ने 12 घंटे में कृत्रिम पैर तैयार किया है। वहीं अब जमुई की इस बेटी को एक पैर पर कूदकर स्कूल नहीं जाना पड़ेगा।

दरअसल, बिहार शिक्षा परियोजना द्वारा भागलपुर में संचालित कृत्रिम अंग एवं अवयव निर्माण केंद्र के कर्मी सीमा की मदद के लिए आगे आए और कृत्रिम पैर का निर्माण किया। जब 25 मई को इस कृत्रिम अंग निर्माण केंद्र को सीमा के संबंध में जानकारी मिली तो केंद्र की पीओई (पेस्थोटेटिक्स एंड आर्थोटेटिक्स इंजीनियर) की टीम ने सर्व शिक्षा अभियान के जिला कार्यक्रम पदाधिकारी देवेंद्र नारायण पंडित से संपर्क किया। उन्होंने कहा कि हमलोग सीमा के लिए कृत्रिम पैर का निर्माण कर सकते हैं।


6 इंजीनियरों ने तैयार किया कृत्रिम पैर
इसके बाद सीमा के पैर की माप लेकर पीओई की टीम के 6 सदस्यों ने 26 मई की सुबह से कृत्रिम पैर निर्माण का कार्य शुरू किया। इस टीम में सुमन कुमार, मुकेश कुमार, रंजीत झा, शालिनी, अरविंद कुमार, प्रवीण कुमार शामिल थे। वहीं 12 घंटे की कड़ी मेहनत के बाद टीम ने 26 मई की रात तक कृत्रिम पैर बनाकर तैयार कर दिया। इसके बाद 27 मई को टीम ने जमुई पहुंचकर सीमा को दूसरा पैर लगा दिया गया। 

अभिनेता सोनू सूद ने भी बढ़ाया मदद का हाथ 
बता दें कि इससे पहले फिल्म अभिनेता सोनू सूद, मंत्री अशोक चौधरी, जमुई के जिलाधिकारी एके सिंह सहित कई लोग सीमा की मदद के लिए सामने आए। जिलाधिकारी एके सिंह ने उन्हें उपहार स्वरूप ट्राई साइकिल दी है। वहीं सोनू सूद ने सीमा का वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा कि अब यह अपने एक नहीं दोनों पैरों पर कूदकर स्कूल जाएगी। टिकट भेज रहा हूं, चलिए दोनो पैरों पर चलने का समय आ गया।

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Ramanjot

Related News

Recommended News

static