कोरोना का डबल अटैकः PMCH में निगेटिव रिपोर्ट के साथ भर्ती हुआ मरीज, ब्लैक फंगस के बाद फिर संक्रमित

7/6/2021 2:50:34 PM

 

पटनाः बिहार में ब्लैक फंगस के बाद कोरोना संक्रमण का चौकाने वाली मामला सामने आया है, जहां पर पीएमसीएच में भर्ती एक व्यक्ति को 2 महीने में कोरोना का डबल अटैक हुआ है। वह 29 मई को पीएमसीएच में निगेटिव रिपोर्ट के साथ भर्ती हुआ था लेकिन 5 जून को जांच में पॉजिटव पाया गया। वहीं कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद से अस्पातल में हड़कंप मच गया है। साथ ही संपर्क में आए मरीज और हेल्थ वर्करों की जांच के लिए कहा गया है।

दरअसल, पटना मेडिकल कॉलेज में भर्ती 43 साल के अरविंद कुमार 29 अप्रैल को कोरोना संक्रमित हो गए। घर में रहकर इलाज करवाया और इलाज में उन्हें स्टेरायड का इंजेक्शन दिया गया। वह कोरोना से तो जीत गए लेकिन पोस्ट कोरोना सिंड्रोम के शिकार हो गए। ब्लैक फंगस की शिकायत पर 29 मई को उन्हें पीएमसीएच में भर्ती किया गया। पीएमसीएच में 29 मई को भर्ती करते समय कोरोना की जांच हुई, जिसमें वह निगेटिव पाए गए। वहीं पीएमसीएच में ऑपरेशन की सुविधा नहीं होने से मरीज की हालत बिगड़ गई। पीएमसीएच में भर्ती होने के दौरान वह 2 बार ऑपरेशन के लिए निजी अस्पताल में गए। दोनों बार कोरोना की जांच हुई, जिसमें वह निगेटिव पाए गए। अरविंद ने बताया कि पटना के रूबन अस्पताल में दोनों बार ऑपरेशन करवाया था। ऑपरेशन के बाद वह पीएमसीएच में भर्ती हुए। इसके बाद 30 जून को भी कोरोना जांच हुई, जिसमें वह निगेटिव पाए गए।

बता दें कि ब्लैक फंगस से ठीक होने के बाद डॉक्टरों ने अरविंद को अस्पताल से छुट्टी देने की तैयारी शुरू कर दी। डॉक्टरों ने छुट्‌टी देने से पहले एक बार ब्लैक फंगस की जांच से पहले कोरोना का टेस्ट करवाया। सोमवार को रिपोर्ट आते ही हड़कंप मच गया। अरविंद कोरोना संक्रमित पाए गए। रिपोर्ट आते ही मरीज के साथ-साथ डॉक्टर भी हैरान हो गए। मरीज को घर भेजने की जगह पर फिर से आनन-पानन में कोरोना वार्ड में शिफ्ट किया गया, जहां पर उसकी हालत नाजुक बनी हुई है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Nitika

Related News

Recommended News

static