यूपी के बाद बिहार में भी चला बुलडोजर, पोखरहा चर्चित हत्याकांड में फरार अभियुक्तों के घर किए गए ध्वस्त

4/21/2022 1:39:36 PM

बक्सर (संजय उपाध्याय): यूपी के बाद अब बिहार में बक्सर प्रशासन का भी बुलडोजर चला है। जिले के बगेन गोला थाना क्षेत्र अंतर्गत चर्चित पोखरहा हत्याकांड में फरार चल रहे नामित अभियुक्तों के खिलाफ बक्सर पुलिस ने कड़ी कार्रवाई की है। पुलिस ने न्यायालय के द्वारा जारी कुर्की-जब्ती के आदेश के आलोक में पांच अभियुक्तों के घर पर बुधवार को बुलडोजर चला कर दो मकानों को ध्वस्त कर दिया। इस दौरान अंचल से संबंधित अधिकारी के अलावा भारी संख्या में पुलिस बल तैनात थे। साथ ही अन्य अधिकारी भी उपस्थित रहे।

बताते चलें कि पोखरहा गांव में भी करीब 80 एकड़ भूमि विवाद को लेकर पूर्व से चले आ रहे दो पक्षों के बीच संघर्ष के कारण एक पक्ष के तीन लोगों की अब तक हत्या हो चुकी है, और चौथे व्यक्ति को गोली लगी थी, जो अभी तक बेड पर ही पड़े नित्य क्रिया करते हैं। गोलियों के जख्म ने उसके शरीर को पूरी तरह से निष्क्रिय बना दिया है। पिछले कुछ दिनों पूर्व ही 9 जून 2021 को बैजनाथ पांडेय के 15 वर्षीय पुत्र शुभम कुमार पांडेय को मुरार थाना क्षेत्र के मनपा गांव में देर शाम गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया गया था। इसके बाद 10 लोगों को नामजद अभियुक्त बनाया गया था, जिसमें से पांच अभी भी फरार थे। इस मामले में पुलिस ने इन अभियुक्तों के दरवाजे पर इश्तेहार चिपकाया गया था। जहां आरोपी एक महीने बाद भी आत्मसमर्पण नहीं किए।

इसी आरोप में कोर्ट के आदेश पर इन आरोपियों के घर पर बुधवार को बुलडोजर से इनके मकानों को पुलिस प्रशासन द्वारा जमींदोज कर दिया गया। जिसकी पुष्टि वहां मौजूद मुरार थाना अध्यक्ष रविकांत सिंह एवं अंचल कर्मी ने की। गौरतलब हो कि उत्तर प्रदेश में योगीराज में बुलडोजर काफी चर्चा में रहा है तो वहीं दूसरी तरफ दिल्ली का मामला भी इस वक्त काफी चर्चा में है। वहीं अब बिहार के बक्सर जिले के इस बुलडोजर मामले ने साबित कर दिया कि अपराधी चाहे कोई भी हो बख्शा नहीं जाएगा। अभी 2 दिन पहले ही मंगलवार को बेखौफ अपराधियों ने स्कूल जा रहे हैं शिक्षक की मंगलवार को जगदीशपुर में हत्या कर दी गई थी, इस मामले में पुलिस प्रशासन की काफी फजीहत हुई। वहीं पुलिस द्वारा की गई इस कार्रवाई के बाद पीड़ित परिवार ने पुलिस के कार्यशैली पर संतुष्टि जताते हुए बताया कि इससे दुख तो कम नहीं होगा, मगर देर से ही सही पुलिस की इस कार्यवाही के बाद खुशी जरूर हो रही है।

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Ramanjot

Related News

Recommended News

static