तीसरी लहर में पटना AIIMS के अब तक 610 डॉक्टर्स और स्वास्थ्यकर्मी Corona पॉजिटिव

1/14/2022 9:39:28 PM

 

पटनाः बिहार में कोरोना की तीसरी लहर न केवल आम लोगों बल्कि डॉक्टरों के लिए भी आफत बन गई है। यहां पर 30 दिसंबर से लेकर अब तक 590 डॉक्टर और 5,000 से अधिक स्वास्थ्यकर्मी संक्रमित पाए जा चुके हैं, जिनमें से 610 डॉक्टर्स और स्वास्थ्यकर्मी केवल पटना एम्स के ही हैं। वहीं अगर संक्रमण की ऐसी रफ्तार ही रही तो आगे इलाज मिलना मुश्किल हो जाएगा।

जानकारी के अनुसार, नालंदा मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल (एनएमसीएच) में अब तक 250 से अधिक डॉक्टर और अन्य स्टाफ कोरोना संक्रमित हुए हैं। इसके साथ ही इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान में भी 100 से अधिक डॉक्टर और अन्य स्टाफ कोरोना संक्रमित हुए हैं। वहीं एम्स में अब तक 600 से अधिक डॉक्टर और अन्य स्टाफ कोरोना संक्रमित हुए हैं। इसमें 13 कंसल्टेंट, 53 सीनियर रैजिडैंट, 101 जूनियर डॉक्टर, 20 इंटर्न, 303 नर्सिंग कैडर, 45 टेक्निकल स्टाफ, 24 सेक्रेट्रिएट स्टाफ, 23 अटेंडेंट और 15 हाउस कीपिंग स्टाफ कोरोना पॉजिटिव हुए हैं।

बता दें कि पटना एम्स में गुरुवार को कुल 72 स्वास्थ्यकर्मी कोरोना संक्रमित पाए गए, जिसमें 15 डॉक्टर और 37 नर्स भी शामिल हैं।
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Nitika

Related News

Recommended News

static