मिलिए इन 10 ऐसे बॉलीवुड एक्टर्स से, जो हैं तो बिहार के, लेकिन दुनिया इन्हें पहचानती है

8/21/2017 1:28:10 PM

बॉलीवुड में काम करने के लिए कई शहरों से लोग आते है, जिनमें से कुछ कामयाबी के शिखर तक पहुच जाते है, तो कुछ अपने इस सफ़र को पूरा नहीं कर पाते। आज हम आपको बिहार से आए ऐसे अभिनेताओं के बारे में बताने जा रहे है, जिन्होंने बॉलीवुड में अपने काम से पूरे देश में बिहार का गौरव बढ़ाया है।

1. शत्रुघ्न सिन्हा
बॉलीवुड में शॉट-गन के नाम से फ़ेमस शत्रुघ्न सिन्हा बिहार से हैं। बिहार के पटना जिले में जन्म लेने वाले शत्रुघ्न सिन्हा ने अपनी एक्टिंग से लाखों लोगों के दिलों को जीता। इन्होंने अपने करियर की शुरुआत 'प्रेम पुजारी' फिल्म से की थी। 1971 में बनी गुलज़ार की 'मेरे अपने' फिल्म में इन्होंने मुख्य भूमिका निभाई। 1976 में आई 'कालिचरण' मूवी के बाद ये बहुत बड़े स्टार बन गए। इसके बाद इन्होंने 'विश्वनाथ', 'जानी दुश्मन', 'दोस्ताना', 'क्रांति', 'नसीब' आदि जैसी कई हिट फिल्में की।
PunjabKesari
2. मनोज बाजपेई
बॉलीवुड अभिनेता मनोज बाजपेई भी बेलवा नामक गांव के रहने वाले हैं। बॉलीवुड में इन्होंने अपने करियर की शुरुआत छोटी-मोटी फिल्मों से की थी। उसके बाद फिल्म 'सत्या' के साथ इनको एक बड़ी सफलता हासिल हुई। इन्होंने कुछ धारावाहिक भी किए हैं। इसके बाद इन्होंने  'शूल', 'पिंजर', 'राजनीती', 'आरक्षण', 'गैंग्स ऑफ़ वासेपुर-1' आदि जैसी कई हिट फिल्में दीं। इन्होंने अपने काम से लोगों का दिल जीतने के साथ-साथ  फ़िल्‍मफ़ेयर और राष्‍ट्रीय फ़िल्‍म पुरस्‍कार भी जीते।
PunjabKesari
3. सोनाक्षी सिन्हा
अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा की बेटी सोनाक्षी सिन्हा को भला कौन नहीं जानता होगा। सलमान खान के साथ 'दंबग' से अपने करियर की शुरुआत करने के बाद इन्होंने बॉलीवुड में काफी सफ़लता हासिल कर ली। इसके अलावा फिल्म 'दंबग' के लिए इन्हें पहला फ़िल्मफ़ेयर अवॉर्ड भी मिला। इसके बाद सोनाक्षी ने 'राउडी राठौर', 'हॉलि-डे, 'लूटेरा' और 'अकीरा' जैसी हिट फ़िल्मों में काम किया। 2013 में 'लूटेरा' के लिए सोनाक्षी को फ़िल्मफ़ेयर अवॉर्ड से सम्मानित किया गया था।
PunjabKesari
4. इम्तियाज़ अली
बॉलीवुड में लेखक, निर्देशक, अभिनेता के तौर पर पहचाने जाने वाले इम्तियाज़ अली बिहार के दरभंगा में मुस्लिम परिवार से ताल्लुक रखते हैं। इन्होंने अपने करियर की शुरुआत टीवी निदेशक के रुप में की थी। उनकी पहली बॉक्स ऑफिस हिट 'जब वी मेट'थी। इसके बाद इन्होंने 'लव आज कल', 'रॉकस्टार', 'हाइवे' और 'तमाशा' जैसी हिट फ़िल्में की। इसके बाद इन्होंने पहली बार 'ब्लैक फ्राइडे' में बतौर अभिनेता के रुप में काम किया। इम्तियाज़ अली को हिंदी सिनेमा के सफल निर्देशकों में से एक माना जाता है।
PunjabKesari
5. शेखर सुमन
बिहार से आए शेखर सुमन की पहली फिल्म 1984 में रेखा के साथ 'उत्सव' थी। इसके बाद इन्होंने 'नाचे मयूरी', 'संसार', 'चोर मचाये शोर', 'हार्टलेस' जैसी फ़िल्मों में अपना शानदार अभिनय दिखाया। फिल्मों में आने से पहले इन्होंने  'देख भाई देख', 'सिम्प्ली शेखर', 'मेड इन इंडिया', 'मूवर्स एंड शेखर्स' 'मसाला मार के' जैसे छोटे पर्दे के सीरियल्स में काम किया। इसके अलावा इन्होने 'लाफ़्टर चैलेंज', 'लाफ़ इंडिया लाफ़' और 'कॉमेडी सुपरस्टार' जैसे शो को जज भी किया।
PunjabKesari
6. नीतू चंद्रा
नीतू चंद्रा ने अपने करियर की शुरुआत 2003 में एक तेलुगू फिल्म 'विष्णु' से की। इसके बाद नीतू ने 2005 में अक्षय कुमार के साथ गरम-मसाला करके बॉलीवुड में कदम रखा।  नीतू ने 'ट्रैफिक सिग्नल', 'वन टू थ्री', 'ओय लकी' में काम किया। इन्होंने एक भोजपुरी फ़िल्म 'देसवा' को भी प्रड्यूस किया।
PunjabKesari
7. संजय मिश्रा
कॉमेडी एक्ट्रर संजय मिश्रा ने अपने करियर की शुरुआत फिल्म 'ओह डार्लिंग ये है इंडिया!' के साथ की थी। इसके अलावा इन्होंने 'गोलमाल- फन अनलिमिटेड', 'धमाल', 'ऑल द बेस्ट-फन बिगिंस', 'फंस गए रे ओबामा' जैसी हिट कॉमेडी मूवीज़ की। फिल्म 'अांखों देखी' के लिए इन्हें बेस्ट क्रिटिक्स फिल्मफेयर अवार्ड भी मिला।
PunjabKesari
8. सुशांत सिंह राजपूत
टीवी सीरियल 'पवित्र रिश्ता' से शुरुआत करने वाले सुशांत सिंह राजपूत पटना, बिहार के हैं। इन्होंने 2013 में 'काय पो छे' फ़िल्म से अपने फ़िल्मी करियर की शुरुआत की। इसके बाद सुशांत ने 'शुद्ध देसी रोमांस', 'डिडेकटिव ब्योमकेश बक्शी', 'पी.के' और भारतीय क्रिकेट इतिहास के सबसे सफ़ल कप्तान की जीवनी पर बनी फ़िल्म  'धोनी: द अनटॉल्ड स्टोरी' जैसी हिट फिल्में की।
PunjabKesari
9. नेहा शर्मा
भारतीय सिनेमा की प्रसिद्व अभिनेत्री नेहा शर्मा मूल रूप से बिहार की हैं। नेहा ने 2007 में एक तेलगु फिल्म 'चिरुथा' के साथ अपने करियर की शुरूआत की। उनकी पहली बॉलीवुड फिल्म 'क्रूक: इट्स गुड टू बी बैड' थी। इसके बाद इन्होंने 'तेरी मेरी कहानी', 'क्या सुपर कूल है हम', 'यमला पगला दीवाना 2' और 'यंगिस्तान' जैसी फ़िल्में की।
PunjabKesari

10. अखिलेंद्र मिश्रा 
बिहार से संबंध रखने वाले अखिलेंद्र मिश्रा 1990 के दूरदर्शन प्रोग्राम 'चंद्रकांता' से क्रूर सिंह के रूप में जाने जाते हैं। उनकी पहली बॉलीवुड फ़िल्म 'बेदर्दी' 1993 में रिलीज हुई थी। इसके बाद उन्होंने अन्य फिल्में 'वीरगति', 'सरफ़रोश', 'गंगाजल', 'अपहरण', 'रेडी' की।
PunjabKesari


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Related News

Recommended News

static