योग गुरु रामदेव के खिलाफ बिहार की अदालत में परिवाद पत्र दायर, मुस्लिमों को लेकर की थी भड़काऊ टिप्पणी

2/5/2023 10:13:42 AM

मुजफ्फरपुर: योग गुरु रामदेव की मुश्किलें अब बढ़ने वाली है। दरअसल, इस्लाम पर की गई कथित भड़काऊ टिप्पणी को लेकर उनके खिलाफ बिहार के मुजफ्फरपुर जिले की एक अदालत में शनिवार को परिवाद पत्र दायर किया गया है। मुजफ्फरपुर के सामाजिक कार्यकर्ता तमन्ना हाशमी ने मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी की अदालत में रामदेव के खिलाफ दर्ज कराई गई उक्त शिकायत में कथित तौर पर मुसलमानों की धार्मिक भावनाओं को आहत करने के मामले में उनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने की मांग की है। 

हाशमी ने शिकायत दर्ज कराने के बाद संवाददाताओं से कहा, "मुसलमानों और इस्लाम के खिलाफ रामदेव द्वारा दिया गया बयान आपत्तिजनक है और यह मुस्लिम समुदाय के लोगों की भावनाओं को आहत करता है।" उन्होंने कहा, “राजस्थान के बाड़मेर में एक कार्यक्रम में भड़काऊ टिप्पणी करते हुए योग गुरु रामदेव ने हिंदू धर्म की तुलना इस्लाम और ईसाई धर्म से करते हुए मुसलमानों पर आतंक का सहारा लेने और हिंदू महिलाओं का अपहरण करने का आरोप लगाया। 

योग गुरु रामदेव ने कहा था कि मुसलमान दिन में पांच बार नमाज पढ़ते हैं और फिर जो चाहे करते हैं। वे हिंदू लड़कियों का अपहरण करते हैं और सभी प्रकार के पाप करते हैं। उनके भाषण का एक वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आया है। हाशमी ने आरोप लगाया कि रामदेव ने उक्त भड़काऊ टिप्पणी कर मुसलमानों की भावनाएं आहत की है। तमन्ना हाशमी ने धारा 195, 295, 298 क, 298ख, 504, के तहत परिवाद दायर कराया है। वहीं, केस की सुनवाई के लिए मुजफ्फरपुर सीजीएम कोर्ट ने अगली तारीख 16 फरवरी दी है। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Ramanjot

Related News

Recommended News

static