सुपौल में कर्तव्यहीनता के आरोप में ASI निलंबित, 3 होमगार्ड जवानों को सेवा मुक्त करने की अनुशंसा

7/10/2021 1:19:41 PM

सुपौलः बिहार में सुपौल जिले के वीरपुर थाने में पदस्थापित के एक सहायक अवर निरीक्षक को कर्तव्य में लापरवाही बरतने के आरोप में तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है। वहीं, तीन गृहरक्षकों को छह माह के लिए सेवा से मुक्त किए जाने की अनुशंसा की गई है।

पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार ने शु्क्रवार को बताया कि 13 जून को मां काली ऐश ब्रिक्स (खोनटाहा) सीमेंट उद्योग परिसर से चाइनिज सेब से लदे कई ट्रक बरामद कर आठ तस्करों को हिरासत में लिया गया था। तस्करों से पूछताछ में मिली जानकारी में यह पता चला कि बरामद सभी ट्रक भारत-नेपाल सीमा के सतना पोस्ट से भारतीय सीमा में प्रवेश किए हैं। उन्होंने बताया कि मामले की गंभीरता के मद्देनजर इसकी जांच वीरपुर के अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी से कराई गई। जांच में बीओपी पर प्रतिनियुक्त सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) के प्रभारी/जवान की संलिप्तता और वीरपुर थाना पुलिस के रात्रि गश्ती दल की लापरवाही सामने आई।

मनोज कुमार ने बताया कि आंतरिक सुरक्षा में शिथिलता बरतने वाले रात्रि गश्ती दल प्रभारी और सहायक अवर निरीक्षक मुकेश भगत को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर विभागीय कार्यवाही प्रारंभ करने का आदेश दिया गया है। इसके साथ ही तीन गृहरक्षक जवान को छह माह के लिए सेवा मुक्त करने की अनुशंसा की गई है। उन्होंने बताया कि सतना पोस्ट पर तैनात एसएसबी के प्रभारी/जवान के विरूद्ध कठोर कार्रवाई करने के लिए उनके सार्मथ्य पदाधिकारी से भी पत्राचार किया गया है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Ramanjot

Recommended News

static